कुवैत ये टेस्ट करने जा रहा अनिवार्य, फैल हुए तो जान से धोना पड़ेगा हाथ

कुवैत के एक सांसद ने देश में नशी’ली दवाओं से संबंधित मामलों में वृद्धि का हवाला देते हुए एक प्रस्ताव पेश किया है कि जिसके तहत अब नागरिकों और प्रवासियों को अनिवार्य ड्र’ग्स टेस्ट से गुजरना होगा।

सांसद मुहनेद अल सेयर ने कहा कि कुवैतियों के लिए ड्र’ग्स टेस्ट तब किया जाना चाहिए जब वे शादी या रोजगार के लिए आवेदन करते हैं, जबकि प्रवासी निवास परमिट नवीनीकरण के लिए आवेदन करते हैं तो उनका ड्र’ग्स टेस्ट लिया जाना चाहिए।

कुवैत की 4.8 मिलियन की कुल आबादी में विदेशी लगभग 3.4 मिलियन हैं। अपने प्रस्ताव का समर्थन करते हुए, विधायक ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में देश में न’शीली दवाओं के मामलों की संख्या 17,000 से अधिक हो गई है।

उन्होने कहा, “इस संख्या को ठोस प्रयासों के बिना नहीं रोका जा सकता है। ड्र’ग्स टेस्ट इस बीमारी के प्रसार को सीमित करने के लिए एक पूर्व-खाली यु’द्ध के बराबर है।”

पिछले हफ्ते, एक चिकित्सा अधिकारी ने खुलासा किया कि कुवैत में पिछले पांच वर्षों में न’शीली दवाओं और शरा’ब की लत के कारण 327 लोगों की मौ’त हुई है।

उन्होंने नशी’ली दवाओं के सेवन के लिए कमजोर धार्मिक आस्था, जुनून, परिवार का टूटना, बुरे दोस्त और प्रौद्योगिकी के दुरुपयोग को जिम्मेदार ठहराया।