प्राइस वॉर: MBS से बोले डोनाल्ड ट्रंप – रूस से बात कर उत्पादन में करें कटौती

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सऊदी क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान से रूस के साथ बात कर कच्चे तेल के उत्पादन में कमी करने को कहा है। जिसके बाद आज अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में जबरदस्त उछाल आया।ब्रेंट कड्रू का जून अनुबंध गुरुवार को 21 फीसदी की तेजी के साथ 29.94 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ, जो कि सबसे बड़ी एक दिनी तेजी हैं, जबकि बीते सत्र में ब्रेंट क्रूड का उपरी स्तर 36.29 डॉलर प्रति बैरल रहा।

ट्रंप ने कहा कि उन्होंने सऊदी क्राउंन प्रिंस मोहम्मबद बिन सलमान से बात की है और उन्हें उम्मीद है कि सऊदी अरब और रूस (Saudi Arab and Russia) करीब 1 करोड़ बैरल क्रुड के उत्पादन में कटौती करेंगे। हाल ही में दोनों देशों ने इस डील को लेकर साकारात्मक संकेत दिए हैं।

बता दें कि मार्च महीने से ही अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में लगातार नरमी देखने को मिल रही है। कच्चे तेल की कटौती को लेकर सऊदी अरब और रूस कोई सहमति नहीं बन सकी थी। इसके बाद सऊदी अरब ने अपने प्रोडक्शन में 1.20 करोड़ बैरल प्रति दिन का इजाफा कर दिया था।

बाद में उसने कहा कि वह अप्रैल में कम-से-कम एक करोड़ बैरल प्रतिदिन तेल का निर्यात करेगा जिसे बढ़ाकर रेकॉर्ड 1.06 करोड़ बैरल प्रतिदिन तक किया जाएगा। इसका मकसद वैश्विक बाजारों में तेल की आपूर्ति बढ़ाना था। इस कीमत युद्ध के कारण तेल का भाव 18 साल के न्यूनतम स्तर तक चला गया था। इससे अमेरिकी शेल तेल उत्पादकों पर दबाव बढ़ा है। उनके लिए इस कीमत पर उत्पादन करना महंगा पड़ रहा था।

हालांकि रूस ने किसी भी बातचीत से इंकार किया है। इसके साथ ही कहा कि न ही उत्पादन में कटौती की कोई योजना है। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने पुतिन की सऊदी ताज के साथ कथित बातचीत के बारे में पूछे जाने पर बताया कि इस तरह की कोई बातचीत नहीं हुई। मॉस्को ने पहले कहा कि मार्च में रूस और ओपेक के सदस्यों के बीच संघर्ष के बाद से दोनों देशों के बीच कोई बातचीत नहीं हुई है, जिसे मॉस्को और रियाद के बीच एक तेल मूल्य युद्ध के रूप में वर्णित किया गया था।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE