जॉर्डन में पूर्व मंत्री हिरा’सत में, सऊदी क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान के है करीबी

जॉर्डन के पूर्व वित्त मंत्री बासेम अवधल्लाह को हिरा’सत में लिया गया है। कथित तख़्तापलट की जांच को लेकर उन्हे हिरा’सत में लिया गया है।

अवधल्लाह, जो जॉर्डन के शाही दरबार के प्रमुख के रूप में भी काम करते थे, कई लोगों में से एक है। जिनको सरकार ने देश को अस्थिर करने के उद्देश्य से गतिविधियों की जांच के हिस्से के रूप में हिरा’सत में लिया।  अधिकारी ने कहा कि सोशल मीडिया पर प्रसारित होने वाली रिपोर्ट्स में कहा गया है कि अवधल्लाह ने जॉर्डन को छोड़ दिया था लेकिन यह सच नहीं था।

अवधल्लाह जॉर्डन में एक प्रसिद्ध राजनीतिक अर्थशास्त्री हैं। उन्होंने 2006 में, राजा के कार्यालय के निदेशक, योजना मंत्री और ट्रेजरी के सचिव सहित कई पदों पर कार्य किया। उन्होंने रॉयल कोर्ट में वाणिज्यिक विभाग के निदेशक के रूप में भी काम किया और फिर 2007 में जॉर्डन में रॉयल कोर्ट के निदेशक बने, लेकिन जल्द ही उन्हें आलोचना के दबाव में इस्तीफा देने के लिए मजबूर होना पड़ा।

अवधल्लाह का जन्म 1964 में यरुशलम में हुआ था। उन्होंने 1985 में लंदन स्कूल से अर्थशास्त्र और राजनीति विज्ञान में लंदन स्कूल से मास्टर्स और पीएचडी की डिग्री प्राप्त की और 1984 में संयुक्त राज्य अमेरिका के जॉर्जटाउन विश्वविद्यालय से अंतरराष्ट्रीय संबंधों और अंतर्राष्ट्रीय अर्थशास्त्र में स्नातक की डिग्री प्राप्त की।

बसीम अवधल्लाह उन लोगों में शामिल हैं। जिनके पास जॉर्डन और सऊदी अरब की नागरिकता है। वाशिंगटन पोस्ट ने बताया कि सऊदी अरब ने जॉर्डन को अवधल्लाह को रिहा करने के की मांग की है। अवधल्लाह ने पिछले कुछ वर्षों से सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के सलाहकार के रूप में काम किया है।