इटली ने किया कोरोना की वैक्सीन खोजने का तो इस्राइल ने किया टीका बनाने का दावा

कोरोना (Coronavirus) के कहर के बीच इटली ने दावा किया है कि उसने इसकी वैक्सीन की खोज कर ली है। वहीं, इस्राइल ने भी कोरोना वायरस का टीका बनाने का दावा किया है।

इटली की न्यूज़ एजेंसी ANSA के मुताबिक रोम के संक्रामक बीमारी से जुड़े स्पालनजानी हॉस्पिटल में ये टेस्ट किया गया जिसमें चूहे के भीतर एंटीबॉडीज़ तैयार किया। लजारो स्पालनजानी नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ इन्फेक्शन डिज़ीज़ के रिसर्चर के मुताबिक ये एंटीबॉडीज़ इंसानों पर कारगर है और इसके इस्तेमाल से कौशिकाओं में मौजूद वायरस खत्म हो गए।

वैज्ञानिकों ने एक चूहे पर वैक्सीन का टेस्ट किया। पहले वैक्सीन के बाद ही चूहे के भीतर एंटीबॉडीज़ तैयार हुआ जिसने वायरस को कोशिकाओं को संक्रमित करने से रोक दिया। इस तरह पांच अलग अलग वैक्सीन के इस्तेमाल से बहुत सारे एंटीबॉडीज़ तैयार हुए जिसमें सबसे बेहतर परिणाम देने वाले दो एंटीबॉडीज़ को शोधकर्ताओं ने चुना। इस वैक्सीन का गर्मियों के बाद इंसानों पर प्रयोग किया जा सकेगा।

वहीं, इस्राइल के रक्षा मंत्री नफताली बेनेट ने दावा किया है कि देश के डिफेंस बायोलॉजिकल इंस्टीट्यूट ने कोरोना वायरस का वैक्सीन तैयार कर लिया है। बेनेट ने इस कदम को कोविड-19 महामारी के संभव इलाज के रूप में महत्वपूर्ण सफलता बताया है। उन्होंने कहा कि इंस्टीट्यूट ने कोरोना वायरस के एंटीडॉट को तैयार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है।

इस्राइली रक्षा मंत्री ने बताया कि वैक्सीन को तैयार करने का चरण पूरा हो चुका है और शोधकर्ता इसे पेटेंट कराने की तैयार कर रहे हैं। साथ ही इस वैक्सीन की व्यापक पैमाने पर उत्पादन की तैयारी भी हो रही है। रक्षा मंत्री के मुताबिक यह एंटीडॉट वैक्सीन मोनोक्लोनल तरीके से कोरोना वायरस पर हमला कर वायरस को शरीर के अंदर ही खत्म कर देती है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE