सुलेमानी की जानकारी देने वाले अमेरिकी जासूस को फां’सी पर लटकाया

ईरान सरकार ने रिवॉल्युशनरी गार्ड के जनरल कासिम सुलेमानी के बारे में खुफ‍िया सूचना देने वाले अमेरिका और इजराइल के जासूस को आज फां’सी पर लटका दिया। सरकारी मीडिया ने सोमवार को माजिद को सजा दिए जाने पुष्टि की।

जानकारी के अनुसार, बीते महीने कोर्ट ने कहा कि गिरफ्तार महमूद मोस्वी-मज्द ने रिवॉल्युशनरी गार्ड के कमांडर कासिल सुलेमानी की जासूसी की थी। वह सीआईए और इजराइल की खुफिया एजेंसी मोसाद से जुड़ा था। माजिद को पिछले महीने सजा-ए-मौ’त सुनाई गई थी।

इसके बाद ईरान के कानून मंत्रालय के प्रवक्ता हुसैन इस्माइल ने कहा था “माजिद कुद्स सेना प्रमुख की लोकेशन और मूवमेंट की जानकारी हमारे दुश्मन अमेरिका को देता था। इसके बदले उसे अमेरिकी डॉलर मिलते थे। हमने उसे सजा-ए-मौ’त सुनाई है।”

ईरान की कुद्स फोर्स के प्रमुख तीन जनवरी को वह सीरिया से इराक के बगदाद एयरपोर्ट पर पहुंचे। यहां वो एक कार में बैठे। कई और गाड़ियां भी उनके काफिले में थीं। इसी दौरान अमेरिकी एमक्यू-9 ड्रोन से दागी गई मिसाइल उनकी गाड़ी से टकराई। हमले में सुलेमानी की मौ’त हो गई।

इससे पहले ईरानी न्यायपालिका ने रक्षा मंत्रालय के उस पूर्व कर्मचारी रेजा असगरी को मौ’त के घाट उतार दिया जिन्हें अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के लिए जासूसी करने का दोषी पाया गया था। इससे पहले ईरानी न्यायपालिका ने रक्षा मंत्रालय के उस पूर्व कर्मचारी रेजा असगरी को मौत के घाट उतार दिया जिन्हें अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के लिए जासूसी करने का दोषी पाया गया था।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE