Home अन्तर्राष्ट्रीय क़तर ने सऊदी अरब और अमीरात से आने वाले सामानों पर लगायी...

क़तर ने सऊदी अरब और अमीरात से आने वाले सामानों पर लगायी रोक

218
SHARE

पिछले साल सऊदी अरब के साथ अमीरात,मिस्र और बहरीन ने कतर पर आतंकवादी संगठनों को वित्तपोषण देने का आरोप लगाया था, जिसके बाद से कतर के साथ इन देशों के संबंधों में थोडा खटास सी आई है. यह आरोप कतर पर पिछले जून को लगाया गया था,अपने ऊपर लगे इन आरोपों के लिए इन आरोपों से कतर ने इनकार कर दिया था.

नहीं आयेंगे अब सऊदी और अमीरात से सामान 

अपने उपर आतंकवादी संगठनों को वित्तपोषण के आरोप लगने के करीब एक साल बाद कतरी सरकार ने फैसला लिया है की “वह अमीरात और सऊदी अरब से आने वाले सामानों पर प्रतिबंध लगाएगा, दोनों देशों से आने वाले सामानों को देश में आने की अनुमति नहीं देगा.”

दुकानदारों को मिला आदेश 

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मिडिल ईस्ट मॉनिटर की खबरों के अनुसार दोहा के अधिकारियों ने रविवार को बताया कि कतर ने अपने देश के दुकानदारों को आदेश दिया है कि वह दुकानों पर से सऊदी अरब की अगुवाई वाले देशों के सामान को हटा लें.

क्या हुआ था पिछले साल ?

पिछले साल पांच जून को सऊदी अरब , यूएई , बहरीन और मिस्र ने कतर के साथ अपने सारे रिश्ते समाप्त करके उस पर आतंकवादी समूह को आर्थिक सहायता देने और ईरान के साथ करीबी ताल्लुकात होने के आरोप लगाया था. जिसके बाद चारों देशों ने पिछले जून में क़तर के साथ राजनयिक और परिवहन संबंधों में कटौती की थी और जिसके बाद सऊदी अरब ने कतर की एकमात्र भूमि सीमा बंद कर दी थी.

बाद में दोहा को उन खाद्य पदार्थों को जमीन से परिवहन करने की लागत नौ गुना तक, डेयरी उत्पादों और अंडों जैसे स्टेपलों के लिए मजबूर होना पड़ा था. कतर में आयात एक साल पहले बहिष्कार के प्रारंभिक हफ्तों में लगभग 40 प्रतिशत गिर गया था, लेकिन तब स्थिति सामान्य हो गयी जब दोहा को तुर्की जैसे देशों में उत्पादों के नए स्रोत मिले और ओमान के रूप में इस तरह के स्थानों के माध्यम से नए शिपिंग मार्ग विकसित किए गए .

Loading...