समुद्र में दो सप्ताह तक फंसा रहा इंडोनेशियाई व्यक्ति, लकड़ी के टुकड़े के सहारे खुद को रखा जिंदा

जकार्ता: एक इंडोनेशियाई व्यक्ति समुद्र में एक बड़े जहाज के धंसने के बाद लकड़ी के बोर्ड से चिपके करीब दो सप्ताह तक जीवित रहा। एक बचाव अधिकारी ने शुक्रवार को ये जानकारी दी।

18 साल के मुहम्मद कार्तोयो बाली से छह अन्य मछुआरों के साथ नौकायन कर रहे थे, लेकिन उनकी मछली पकड़ने की नाव को एक नौका के द्वारा टक्कर मार दी गई और वह नष्ट हो गई। नाव के नष्ट होने की सुचना पर बचाव कार्य चलाया गया।

डीपीए समाचार एजेंसी ने कृष्ण महता के हवाले से ये जानकारी दी। जो बचाव एजेंसी के एक प्रवक्ता है।

कृष्ण ने कहा कि सुलावेसी द्वीप के पानी में मंगलवार को मछुआरों ने नाव से लकड़ी के बोर्ड से चिपके हुए लोगों को बचाया था।

उन्होंने कहा, “वे एक सप्ताह तक टुकड़े से चिपके रहे, जो नाव से बचा था, लेकिनएक के बाद एक सभी नाविक डूब गए।”

उन्होंने कहा, “जब दु’र्घटना हुई तो कार्तोय को स्पष्ट रूप से याद नहीं था लेकिन यह 9 मार्च का दिन था।

प्रवक्ता के अनुसार एक अन्य मछुआरा मृ’त पाया गया, जबकि पांच अन्य अभी भी लापता हैं।