सऊदी, कुवैत के बाद अब ओमान को तोहफे में मिलेगी भारत की कोरोना वैक्सीन, जानिए बाकी सभी देश

दुनियाभर के कई देशों में कोरोना टीकाकरण जारी है। इस बीच भारत कई देशों को वैक्सीन मुहैया करा रहा है। इसी कड़ी में अब वैक्सीन ओमान पहुंच गई है। विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत द्वारा ओमान को वैक्सीन मुहैया कराना सदियों से चली आ रही दोस्ती का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि मेड इन इंडिया वैक्सीन मस्कट पहुंचा। यह सदियों से चली आ रही गहरी दोस्ती को दर्शाता है। मस्कट में भारतीय दूतावास ने विदेश मंत्री के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कहा कि भारत में बने टीके मस्कट आ गए हैं। यह हजारों वर्षों की गहरी दोस्ती को दर्शाता है।

गौरतलब है कि विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने गुरुवार को कहा था कि भारत की योजना ओमान, कैरीकॉम देशों, निकारागुआ, प्रशांत द्वीप देशों को वैक्सीन मुहैया कराने की है। उन्होंने कहा कि भारत की अफ्रीका को 1 करोड़ या 10 मिलियन वैक्सीन की खुराक और संयुक्त राष्ट्र के स्वास्थ्यकर्मियों को 10 लाख वैक्सीन (ग्लोबल अलायंस फॉर वैक्सीन्स एंड इम्यूनाइजेशन) कोवैक्स सुविधा के तहत देने की योजना है।

अनुराग श्रीवास्तव के अनुसार 20 जनवरी 2021 से, हमने अपने पड़ोसी देशों और विस्तारित पड़ोस में कोरोना वायरस वैक्सीन की 55 लाख से अधिक खुराक गिफ्ट की हैं। भूटान को 1.5 लाख, मालदीव, मॉरीशस और बहरीन को 1 लाख, नेपाल को 10 लाख, बांग्लादेश को 20 लाख, म्यांमार को 15 लाख, सेशेल्स को 50,000, श्रीलंका को 5 लाख खुराक मुहैया कराई है।

आने वाले दिनों में, हम ओमान को 1 लाख, कैरीकॉम देशों को 5 लाख निकारागुआ को 2 लाख और प्रशांत द्वीप देशों को 2 लाख खुराक गिफ्ट करने की योजना बना रहे हैं। ये आपूर्ति इन देशों के अनुरोध पर हो रही है। इसके अलावा भारत ने सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, कनाडा, मंगोलिया और अन्य देशों में कोरोना वायरस वैक्सीन का व्यावसायिक रूप से निर्यात करने की योजना बनाई है।