ब्रिटेन ने दाऊद इब्राहिम के साथी टाइगर हनीफ को भारत को सौंपने से किया मना

लंदन. ब्रिटेन ने भगोड़े गैंग’स्टर दाऊद इब्राहिम के साथी टाइगर हनीफ को भारत को सौंपने से इनकार कर दिया है। हनीफ गुजरात में ब’म धमा’के के दो मामलों में आरोपी है।

हनीफ का पूरा नाम मोहम्मद हनिफ उमेरजी पटेल है और ग्रेटर मैनचेस्टर के बोल्टॉन के एक किराना दुकान में दिखने के बाद स्कॉटलैंड यार्ड ने प्रत्यर्पण वारंट के आधार पर उसे फरवरी 2010 में गिरफ्तार किया था। हनीफ (57) ने उसके बाद ब्रिटेन में रहने का प्रयास करते हुए बार-बार यह कहा है कि भारत भेजे जाने पर वहां उसे प्रताड़ित किया जाएगा।

अप्रैल 2013 में ब्रिटेन की हाईकोर्ट ने उसकी अपील खारिज कर दी थी। इसके बाद उसके मामले को ब्रिटेन के गृह सचिव के पास भेज दिया गया था। हालांकि, कई साल तक यह मामला चलने के बाद ब्रिटेन के गृह सचिव (2018-19) साजिद जावेद ने उसे भारत प्रत्यर्पित करने से इनकार कर दिया।

आखिरकार, गृह मंत्री साजिद जावेद के कार्यकाल में उसे कानूनी सफलता मिली और पाकिस्तानी मूल के मंत्री (जावेद) ने पिछले साल उसके भारत प्रत्यर्पण के अनुरोध को खारिज कर दिया। हालांकि भारत इस मामले में फिर प्रत्यर्पण की अपील दायर कर सकता है। लेकिन, हनीफ को फायदा यह होगा कि वो तब तक जमानत की अर्जी दायर कर सकता है।

ब्रिटेन के गृह विभाग के सूत्र ने रविवार को कहा, ‘हम पुष्टि कर सकते हैं कि हनीफ के प्रत्यर्पण का अनुरोध तत्कालीन गृह मंत्री ने खारिज कर दिया था और अदालत ने उसे अगस्त 2019 में आरोप मुक्त कर दिया।’’ हनीफ के प्रत्यर्पण का पहला आदेश जून 2012 में तत्कालीन गृह मंत्री टेरेसा मे ने दिया था।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE