Home अन्तर्राष्ट्रीय अमेरिकी दबाव में झुका भारत, ईरान से तेल आयात में की 16...

अमेरिकी दबाव में झुका भारत, ईरान से तेल आयात में की 16 प्रतिशत की कटौती

1199
SHARE

अमेरिका की और से मिल रही धमकियों के आगे झुकते हुए भारत ने ईरान से तेल के आयात में 15.9 प्रतिशत की कमी कर दी है। ईरानी मीडिया के अनुसार, भारत ने पिछले महीने ईरान से प्रतिदिन क़रीब 6 लाख बैरल तेल आयात किया था। जबकि मई के महीने में प्रतिदिन 7 लाख 5 हज़ार 200 बैरल तेल ईरान से आयात किया।

बता दें कि ईरान भारत का तीसरा सबसे बड़ा तेल आपूर्तिकर्ता है। लेकिन अमेरिका ने भारत को  4 नवंबर तक ईरान से तेल का आयात शून्य करने की धमकी दी है अन्यथा प्रतिबंधों का सामना करने को कहा है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दूसरी और अब ईरान ने भी भारत को धमकी दी है कि यदि भारत ईरान से तेल का आयात कम करता है तो उसे मिलने वाले विशेष लाभ खत्म हो सकते हैं। ईरान के उप राजदूत और चार्ज डि अफेयर्स मसूद रजवानियन रहागी ने कहा कि यदि भारत अन्य देशों की तरह ईरान से तेल आयात कम कर सऊदी अरब, रूस, इराक और अमेरिका से आयात करता है तो उसे मिलने वाले विशेष लाभ को ईरान खत्म कर देगा।

इतना ही नहीं ईरान ने साफ कर दिया है कि अगर भारत का रवैया ऐसा ही रहा और उसने ईरान से तेल आयात करना बंद किया तो फिर भारत इस पोर्ट को गंवा सकता है।

राहघी ने कहा कि यह काफी दुर्भाग्‍यपूर्ण है कि चाबहार पोर्ट के विस्‍तार के लिए जिस भारतीय निवेश का वादा किया गया था और इससे दूसरे हिस्‍सों से जोड़ने के लिए जिन प्रोजेक्‍ट्स की बात की गई थी, उन्‍हें अभी तक पूरा नहीं किया गया है। उम्‍मीद है कि भारत इस दिशा में जरूरी कदम उठाएगा अगर इस पोर्ट पर उसका सहयोग रणनीतिक है।

Loading...