देखे किस तरह रोबोट मक्का में ग्रैंड मस्जिद की चौबीसों घंटे सफाई में करते रहते है मदद

0
463

दो पवित्र मस्जिदों के मामलों के लिए सऊदी अरब की जनरल प्रेसीडेंसी, किंगडम में COVID-19 मामलों में लगातार गिरावट देखने के बावजूद ग्रैंड मस्जिद को साफ और कीटाणुरहित करने के अपने प्रयासों में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।

एजेंसी ऑफ सर्विसेज, फील्ड अफेयर्स एंड एनवायर्नमेंटल प्रोटेक्शन के अवर महासचिव मोहम्मद अल-जाबरी ने कहा कि निवारक उपायों की एक पूरी सीरीज़ चलाई जा रही है जिससे उन्हें किसी भी प्रकार से दिक्कत ना हो और इसके साथ ही ज़ायरीन हर तरह से स्वस्थ रहे और उन्हें स्वस्थ माहौल मिले।

विज्ञापन

ग्रैंड मस्जिद के गेट पर डिसइंफेक्शन और सैनिटाइजेशन ऑपरेशन के साथ-साथ ट्रांसपोर्टेशन और अन्य सेवाओं पर लगातार नजर रखी जा रही है। इतना ही नहीं मस्जिद में 25,000 कालीन हैं, जबकि लगभग 4,000 पुरुष और महिला कार्यकर्ता है और इसके साथ ही 11 स्मार्ट रोबोट चौबीसों घंटे साइट को कीटाणुरहित और साफ करने के लिए लगातार काम करते रहते हैं।

सफाई मशीनों के बारे में बात करते हुए, अल-जबरी ने कहा: “एजेंसी ग्रैंड मस्जिद को शुद्ध और साफ करने के लिए 840 से अधिक डिवाइस और मशीनों का उपयोग करती है। यह बाहरी आंगनों, शौचालयों, फर्शों और कालीनों सहित ग्रैंड मस्जिद के सभी क्षेत्रों को साफ करने के लिए कई टीमों को लैस करके पूरी तरह से ग्रैंड मस्जिद को चमकाने का कार्य करता है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा: “तीर्थयात्रियों की सेवा के लिए 8,000 इलेक्ट्रिक और साधारण गोल्फ कार्ट हैं, जिनमें 5,000 साधारण गाड़ियां और लगभग 3,000 इलेक्ट्रिक गाड़ियां शामिल हैं, जिन्हें उपयोग से पहले और बाद में साफ किया जाता है।”

मस्जिद के चारों ओर सुरक्षा कर्मचारी भी तैनात किए गए हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोई भी ज़ायरीन धूम्रपान, सामान बेचने या भीख मांगने जैसी इलीगल गतिविधियों में शामिल अन्य लोगों से परेशान न हों।

ज़मज़म का पानी खपत के लिए सुरक्षित और साफ़ है यह सुनिश्चित करने के लिए ग्रैंड मस्जिद के अंदर विभिन्न स्थानों से प्रतिदिन 50 से अधिक नमूने लिए जाते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here