Hajj Ministry : तीर्थयात्रियों के कोटे को दी मंज़ूरी, इंडोनेशिया से आएंगे हज के लिए सबसे ज़्यादा ज़ायरीन और भारत रहा तीसरे नंबर पर

0
502
Hajj Ministry: Approval for quota of pilgrims, Indonesia will have the highest number of pilgrims for Hajj and India is at number three

हज और उमराह मंत्रालय ने 2022 के हज के लिए दुनिया भर के सभी देशों के ज़ायरीनों के लिए कोटा को मंजूरी दे दी है सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाले देश इंडोनेशिया में हज यात्रियों की संख्या सबसे ज्यादा है। मंत्रालय ने इंडोनेशिया के लिए 100,051 का कोटा अलॉट किया है, जबकि पाकिस्तान को 81,132 तीर्थयात्रियों के साथ दूसरा और 79,237 तीर्थयात्रियों के साथ भारत तीसरे स्थान पर है।

वही बांग्लादेश 57,585 के कोटे के साथ चौथी सबसे बड़ी संख्या में ज़ायरीनों को भेजेगा। सबसे कम 23 ज़ायरीनों के साथ अफ्रीकी देश अंगोला सूची में सबसे नीचे है। जहां तक ​​अरब देशों का संबंध है, मिस्र इस बार हज यात्रा के लिए 35,375 ज़ायरीनों के साथ शीर्ष पर है। अफ्रीकी देशों में, नाइजीरिया को 43,008 का सबसे बड़ा हिस्सा मिला। ईरान के लिए अलॉटेड कोटा 38,481 था जबकि तुर्की का कोटा 37,770 था।

विज्ञापन

Hajj Ministry : तीर्थयात्रियों के कोटे को दी मंज़ूरी, इंडोनेशिया से आएंगे हज के लिए सबसे ज़्यादा ज़ायरीन और भारत रहा तीसरे नंबर पर  #gulfnews #uaenews #uaenewsinhindi #arabnewsinhindi #saudiarabnews #hajj2022

सूत्रों के अनुसार, संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए अलॉटेड कोटा 9504 है, जबकि रूस के लिए 11318, चीन 9190, थाईलैंड 5885 और यूक्रेन के लिए 91 कोटा है।

मंत्रालय ने पहले घोषणा की थी कि विदेशी ज़ायरीनों को सबसे ज़्यादा मात्रा में बुलाया जाएगा जो की कुल दस लाख तीर्थयात्रियों में से 85 प्रतिशत हैं जिन्हें इस साल हज करने की अनुमति दी जाएगी। कुल 850,000 विदेशी तीर्थयात्रियों को हज करने की अनुमति दी जाएगी जबकि घरेलू ज़ायरीनों की संख्या 150,000 पर सीमित थी।

कुल 850,000 विदेशी तीर्थयात्रियों की संख्या तीर्थयात्रियों के वास्तविक कोटे का केवल 45.2 प्रतिशत है जो कोरोनोवायरस महामारी के प्रकोप से पहले प्रत्येक देश के लिए आवंटित किया गया था। हज मंत्रालय ने इस साल के हज के लिए विदेशी ज़ायरीनों के लिए कुछ नियम और शर्तें निर्धारित की हैं। इनमें 65 वर्ष से अधिक आयु के तीर्थयात्रियों को अनुमति नहीं देना शामिल है और तीर्थयात्रियों को कोरोनावायरस वैक्सीन की दो खुराक लेनी होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here