हागिया सोफिया तुर्की की संप्रभुता का मामला, लीबिया-अजरबेजान को नहीं छोड़ेंगे अकेला: एर्दोगन

– दिलशाद नूर

अंकारा: तुर्की के राष्ट्रपति ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, हागिया सोफिया को मस्जिद में परिवर्तित करना संप्रभुता का विषय है।

रिसेप तईप एर्दोगन ने जोर देकर कहा, तुर्की ने इस्तांबुल को मुस्लिम इबादतों के बंधन के रूप में फिर से शुरू करने पर अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्रियाओं को नहीं देखा। एर्दोगन ने कहा कि पहली नमाज 24 जुलाई को 1,000-1,500 नमाजियों के लिए होगी।

अज़रबैजान पर हुए अर्मेनिया के हमले को लेकर उन्होने कहा, “तुर्की कभी भी अज़रबैजान को अकेला नहीं छोड़ेगा।” उन्होंने कहा, “ऊपरी करबख कब्जे में है। मिंस्क समूह ने 25-30 साल के लिए इस मुद्दे को छोड़ दिया है।”

ओएससीई मिन्स्क समूह – फ्रांस, रूस और अमेरिका द्वारा सह-अध्यक्षता की गई थी, जो संघर्ष का शांतिपूर्ण समाधान खोजने के लिए बनाई गई थी, लेकिन अभी तक कोई परिणाम नहीं निकला है।

लीबियाई संघर्ष पर बोलते हुए, एर्दोगन ने कहा कि तुर्की लीबिया में अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करता रहेगा। उन्होंने कहा, “हम अपने लीबिया के भाइयों को अकेला नहीं छोड़ेंगे। लीबिया के साथ हमारा संबंध 500 साल की अवधि में है।”


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE