आखिरकार दुबई में पकड़े गए Gupta brothers, साउथ अफ्रीका ने की पुष्टि

0
472

दक्षिण अफ्रीकी सरकार ने सोमवार को कहा है कि संयुक्त अरब अमीरात में law enforcement अथॉरिटीज ने गुप्ता परिवार के राजेश गुप्ता और अतुल गुप्ता को गिर’फ्तार कर लिया है।

अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि तीसरे भाई – अजय – को गिर’फ्तार क्यों नहीं किया गया।

विज्ञापन

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, Gupta brothers पर दक्षिण अफ्रीका में पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा के साथ अपने संबंधों का इस्तेमाल कर आर्थिक लाभ उठाने और बड़ी-बड़ी पोस्ट यानी की वरिष्ठ पदों को प्रभावित करने का आरो’प है, इन आरो’पों का उन्होंने जोरदार खंडन किया है।

सोमवार को दिए बयान में अधिकारियों ने कहा कि 2018 में, दक्षिण अफ्रीका में पैरास्टेटल संस्थानों से अरबो रैंड लूट’ने के बाद, गुप्ता परिवार दुबई में आत्म-निर्वासन में चला गया।

दक्षिण अफ्रीका के न्याय और सुधार सेवा विभाग ने एक बयान में कहा, “The ministry of justice and correctional सर्विसेज पुष्टि करता है कि उसे संयुक्त अरब अमीरात में law enforcement अथॉरिटीज से सूचना मिली है कि न्याय के भगोड़े राजेश और अतुल गुप्ता को गिर’फ्तार कर लिया गया है।

इसमें कहा गया है, “यूएई और दक्षिण अफ्रीका में विभिन्न law enforcement agencies के बीच बातचीत जारी है। दक्षिण अफ्रीकी सरकार यूएई के साथ सहयोग करना जारी रखेगी।

इसके साथ ही इंटरपोल ने Gupta brothers को रेड नो’टिस जारी किया था, जिन्हें अमेरिका और ब्रिटेन ने भी गैर अनुग्रह व्यक्ति घोषित किया था।

ऐसे व्यक्तियों को गिर’फ्तार करने के लिए ग्लोबली तौर पर काम करने वाली कानूनी एजेंसियों को सतर्क करने के लिए रेड नोटिस जारी किए जाते हैं।

ये परिवार 2018 में दक्षिण अफ्रीका से भा’ग गया जब बड़े सार्वजनिक विरो’ध के रूप में उन पर नेट बंद हो गया और अंततः एएनसी ने ज़ूमा को हटा दिया और सिरिल रामफोसा को कार्यवाहक राष्ट्रपति नियुक्त किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here