UAE-इजरायल डील इस्लामिक दुनिया को जंगी खेमे में बाटेगी: पूर्व मलेशियाई पीएम

मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री महाथिर मोहम्मद ने संयुक्त अरब अमीरात और इजरायल के बीच हुई डील की आलोचना करते हुए कहा कि ये डील इस्लामिक जगत को जंगी खेमों में बाँट कर रख देगी।

एशियाई अखबार में प्रकाशित बयान के अनुसार मोहम्मद ने कहा, “समझौता इस्लामिक दुनिया को युद्धरत गुटों में विभाजित करेगा जहां इजरायल इस संघर्ष में आग पर ईंधन डालने में सक्षम होगा।” उन्होने कहा, समझौते से एक दूसरे से लड़ने के लिए युद्धरत पक्षों की क्षमता बढ़ जाएगी, और इस्लामिक देशों के बीच भी शांति नहीं होगी।”

मोहम्मद ने इस बात पर जोर दिया कि फिलिस्तीनियों और फिलिस्तीनियों के प्रति सहानुभूति रखने वाले इस समझौते पर प्रतिक्रिया करेंगे जिसका अर्थ है कि मध्य पूर्व में युद्ध को लंबा खींचना।

13 अगस्त को, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने यूएई और इजरायल के बीच कथित शांति समझौते की घोषणा की।जिसके बाद मुस्लिम दुनिया तीन खेमों में बंटते हुए दिखाई दे रही है।

पहले खेमे में डील का समर्थन करने वाले देश यूएई, मिस्र, बहरीन, जॉर्डन जैसे इस्लामिक देश है। तो वहीं डील का विरोध करने वाले देशों में तुर्की, ईरान, पाकिस्तान, मलेशिया आदि है। वहीं सऊदी अरब, कुवैत जैसे देशों ने इस डील पर खामोशी बनाई हुई है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE