एर्दोआन बोले – तुर्की का अगला चुनाव 2023 में ही होगा, विपक्ष की मांग नहीं मानी

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगान ने बुधवार को स्पष्ट कर दिया कि तुर्की का अगला आम चुनाव 2023 में होगा, जैसा कि निर्धारित है। हालांकि एर्दोआन ने जल्द चुनाव की विपक्षी मांगों को खारिज कर दिया।

अपने जस्टिस एंड डेवलपमेंट (एके) पार्टी के संसदीय समूह से बात करते हुए, उन्होने कहा, “जून 2023 तुर्की का चुनावी कैलेंडर है। पीपुल्स एलायंस के रूप में यह हमारा फैसला है, यह वह तारीख है जिसकी हमने घोषणा की थी।”

उन्होंने कहा कि सरकार और भी कठिन प्रयास करेगी और इस बात का ख्याल रखेगी कि तुर्की को विपक्षी नेशन एलायंस और उसके सबसे बड़े सदस्यों, रिपब्लिकन पीपुल्स पार्टी (सीएचपी) और गुड (आईवाईआई) पार्टी के हाथों में न छोड़े।

उन्होंने कहा, “इसलिए हम कहते हैं कि हम उस घर को अकेला नहीं छोड़ेंगे जिसमें हमने प्रवेश नहीं किया है, हम किसी ऐसे दिल को अकेला नहीं छोड़ेंगे जिसे हमने छुआ और जीत नहीं पाया।” उन्होंने कहा, “हम काम और सेवा की नीति के साथ देश पर शासन कर रहे हैं।”

एर्दोआन ने कैनाल इस्तांबुल मेगा-प्रोजेक्ट को लेकर कहा, यह देश के विकास में एक नया अध्याय खोलेगा। उन्होंने कहा, “इस परियोजना की सबसे महत्वपूर्ण विशेषताओं में से एक यह है कि यह शहरी परिवर्तन और परिवर्तन के बिंदु से एक गंभीर बोझ को दूर करेगी।”