तुर्की को काला सागर में मिलने वाले प्राकृतिक गैस की खोज के भंडार के बारे में एर्दोगन ने किया खुलासा

राष्ट्रपति तैयप एर्दोगन ने शुक्रवार को कहा कि तुर्की ने दक्षिणी काला सागर में 135 बिलियन क्यूबिक मीटर अतिरिक्त प्राकृतिक गैस की खोज की है। उन्होने बताया कि इस क्षेत्र में कुल खोज अब बढ़कर 540 बिलियन क्यूबिक मीटर हो गई है। पिछले साल ही तुर्की के फतह ड्रिल जहाज ने देश की सबसे बड़ी खोज में पश्चिमी काला सागर क्षेत्र के सकारिया क्षेत्र में 405 बीसीएम प्राकृतिक गैस की खोज की थी।

एर्दोगन ने ज़ोंगुलदक के काला सागर प्रांत में एक उद्घाटन समारोह में बताया, “हमारे फतह ड्रिल जहाज ने साकार्य गैस क्षेत्र में अमासरा -1 बोरहोल में 135 बिलियन क्यूबिक मीटर प्राकृतिक गैस की खोज की।” उन्होंने कहा, “(बोरहोल) के आसपास हमारा नया ड्रिलिंग ऑपरेशन जारी है, अल्लाह ने चाहा कि हम इस क्षेत्र से नई अच्छी खबर की उम्मीद करें।”

तुर्की अपने तीन में से दो ड्रिल जहाजों का उपयोग क्षेत्र के विकास को गति देने के लिए करता है। ऊर्जा मंत्री फातिह डोनमेज़ ने पिछले महीने कहा था कि एक ड्रिल जहाज मजबूत आरक्षित आंकड़ों का मूल्यांकन करने के लिए नए परीक्षण कुएं खोलेगा जबकि दूसरा परीक्षण कुओं को उत्पादन की स्थिति में अपग्रेड करेगा।

अंकारा का लक्ष्य 2023 में साकार्य क्षेत्र से अपने मुख्य ग्रिड में गैस पंप करना है। जिससे 2027 या 2028 में निरंतर उत्पादन शुरू होगा। डोनमेज़ ने कहा है कि चार चरण की विकास योजना के बाद यह क्षेत्र पूर्ण उत्पादन की स्थिति में पहुंच जाएगा।

इस क्षेत्र में नए कुओं को मुख्य ग्रिड से जोड़ने के लिए कम से कम 160 किमी लंबी पाइपलाइन की आवश्यकता होगी, जबकि इसके लिए दो साल के भीतर एक रिसीविंग स्टेशन बनाने की भी जरूरत है। तुर्की, जिसके पास बहुत कम तेल और गैस है, रूस, अजरबैजान और ईरान से आयात के साथ-साथ कतर, संयुक्त राज्य अमेरिका, नाइजीरिया और अल्जीरिया से अपनी गैस के लिए एलएनजी आयात पर अत्यधिक निर्भर है।