दुबई में लोग साइबर-भिखारी से परेशान, व्हाट्सएप पर मांगते है भीख

दुबई पुलिस ने एक अरब नागरिक को गिरफ्तार किया है। जो रमजान के महीने में व्हाट्सएप पर लोगों से भीख मांग रहा था।

एक शीर्ष अधिकारी ने दुबई निवासियों से आग्रह किया कि वे मदद के लिए ऐसे कॉल का जवाब न दें, क्योंकि वे धोखाधड़ी भी कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि भिखारी सोशल मीडिया का उपयोग सोब कहानियों को बेचने के लिए करते हैं, खासकर रमजान के पवित्र महीने के दौरान।

यूएई पब्लिक प्रॉसिक्यूशन ने मंगलवार को चेतावनी दी थी कि भिखारियों के पेशेवर गिरोह या देश के बाहर से भर्ती होने वाले लोगों को भिखारियों के रूप में काम करने पर Dh100,000 तक का जुर्माना लगाया जा सकता है।

बता दे कि यूएई में भीख मांगना जुर्म है। किसी भी तरह से भीख मांगने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाती है। हालांकि मजबूर और लाचार की सरकार की और से मदद की जाती है।