अरब वर्ल्ड नोबल पुरुस्कार जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनी डॉ. ताहिरा कुतुबुद्दीन

0
427

हमारे देश की बेटियां देश मे ही नही बल्कि दुनिया मे भी अपने देश भा’रत मे नाम रोशन कर रही है। आज हम आपको देश की एक ऐसी ही बेटी डॉक्टर ताहिरा कुतुबु’द्दीन को उनके कामों के लिए सऊदी का नोबेल पुरुकार कहे जाने लगा है।

शेख जायद पुरुस्कार से उनकव सम्मा’नित किया गया है। यह पुरस्कार को पाकर वह बहुत ज्यादा खुश है।मानव बंधुत्व के लिए जायद पुरुकार दुनिया भर से मानवता की सेवा में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले सभी व्यक्तिगत और संस्थानों को नामां’कन करने के अवसर प्रदन करता है।

यह पहलीं बार जब पुरुस्कार नामांकन के लिए खुला है।संत पापा फ्रांसिस और अल अहजर के ग्रेड इमाम 2019 में मानव बन्दुत्व के दस्तावेह पर हस्ताक्षर करने में उनकी भूमिका की मान्यता में पुरुकार के पहले प्रप्तकर्ता थे। मुम्बई में जन्मी डॉक्टर ताहिरा, शिकागो यूनिवर्सिटी में अरबी साहित्य के प्रोफेक्सर थे। हाल ही में 15 वे शेख जायद बुक पुरुस्कार जीतने वाली भरतीय मूल की पहलीं व्यक्ति बनी।

इस पुरस्कार को अरब जगत का नोबेल पुरस्कार माना जाता है। उन्होंने साल 2019 में लीडन के बिलएकेडमिक पब्लिशर्स द्वारा प्रकाशित अपनी नवीनतम पुस्तक अरबी ओरेशन आर्ट एंड फंक्शन के लिए पुरुस्कार जीता। साल 2021 में मुम्बई में जन्मी भारतिय मूल की प्रसिद्द शिक्षाविद डॉक्टर ताहिरा कुतुबुद्दीन ने 15 वा शेख जायेद बुक अवार्ड जीता। उन्होंने यह पुरस्कार अपनी प्रकाशित पुस्तक अरेबिक ओवशन आर्ट एंड फंक्शन के लिए जीता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here