डोनाल्ड ट्रंप ने दी मलेरिया की दवा से कोरोना के इलाज को मंजूरी

चीन के वुहान से शुरू होए कोरोना वारस ने पुरी दुनिया में तबाही मचा रखी है। लेकिन अब तक इसका कोई इलाज ईजाद नहीं हो पाया है। ऐसे में अमेरिका ने मलेरिया की दवा से कोविड-19 से संक्रमित लोगों का इलाज को मंजूरी दे दी है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि कोरोना वायरस के इलाज के लिए मलेरिया की दवा को मंजूरी दी गई है। ट्रंप ने कहा कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन नामक एक मलेरिया दवा और गठिया की दवा से कोविड-19 के इलाज में काफी अच्छा रिजल्ट आया है। यह दवा मलेरिया के अलावा कोरोना वायरस के इलाज में कारगर साबित हो रही है।

वहीं दूसरी और संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुतारेस ने गुरुवार को चेतावनी दी कि अगर कोरोना वायरस को फैलने से नहीं रोका गया तो इससे लाखों लोग म’र सकते हैं. उन्होंने कहा कि खासकर गरीब देशों में ज्यादा लोगों की मौ*त हो सकती है। उन्होंने इस वायरस के खिलाफ समन्वित वैश्विक प्रतिक्रिया की अपील की।

यूएन महासचिव ने कहा, ‘अगर हम जंगल की आग की तरह वायरस को फैलने देते हैं खासकर दुनिया के गरीब देशों में तो इससे लाखों लोगों की मौ*त हो सकती है। ’ उन्होंने कहा, ‘वैश्विक एकजुटता न केवल नैतिक आवश्यकता है बल्कि हर किसी के हित में है।’


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE