मुस्लिम विरो’धी भावनाओं से लड़ने के लिए एकजुट हुए डी-8 देश

डेवलपिंग-8 देशों ने व्यापार सहयोग बढ़ाने और अगले दस वर्षों में संगठन के कुल व्यापार के कम से कम 10% तक अपने घरेलू व्यापार को लाने पर सहमति व्यक्त की है।

बांग्लादेश द्वारा आयोजित 10 वीं शिखर सम्मेलन ऑफ डेवलपिंग -8 (डी -8) की बैठक के दौरान तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने भी भाग लिया, इस ब्लाक ने 2020 से 2030 के लिए डी -8 डेसेनिअल रोडमैप और ढाका घोषणा 2021 को अपनाया।

रोडमैप के साथ, ब्लॉक का उद्देश्य मजबूत और अधिक विकसित होना है और संयुक्त राष्ट्र द्वारा निर्धारित 2030 स्थिरता एजेंडा को प्राप्त करने में मदद करने के लिए प्रासंगिक रणनीतियों और कार्रवाई कार्यक्रमों के कार्यान्वयन का समर्थन करना है।

इसका उद्देश्य क्षेत्रीय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए सहयोग के प्रत्येक क्षेत्र के लिए ठोस परियोजना योजनाओं को तैयार करना है। देशों ने दक्षिण-दक्षिण सहयोग की क्षमता और लाभों पर प्रकाश डाला जो उनके विकास में योगदान करते हैं।

इन सभी देशों ने नस्ल’वाद, भेदभाव के सभी रूपों में मुस्लिम विरोधी भावनाओं से लड़’ने के लिए अपनी इच्छा की पुष्टि की। विकासशील -8 ब्लॉक की स्थापना आधिकारिक तौर पर 15 जून, 1997 को राज्य और सरकार के प्रमुखों के शिखर सम्मेलन की इस्तांबुल घोषणा में की गई थी।

ब्लॉक में बांग्लादेश, मिस्र, नाइजीरिया, इंडोनेशिया, ईरान, मलेशिया, पाकिस्तान और तुर्की शामिल हैं।