क्राउन प्रिंस बिन सलमान ने कहा इब्न अब्दुल वहाब सऊदी अरब नहीं है

0
766

अमेरिकी पत्रिका “द अटलांटिक” के साथ अपने इंटरव्यू में, क्राउन प्रिंस बिन सलमान ने पुष्टि की है कि इब्न अब्दुल वहाब सऊदी अरब नहीं है।

“मैं कहूंगा कि मुहम्मद इब्न अब्दुल वहाब पैगंबर नहीं है, वह एक फरिश्ता भी नहीं है। वह कई पोलिटिकल लीडर्स और मिलिट्री लीडर्स के बीच पहले सऊदी किंगडम के दौरान रहने वाले कई अन्य विद्वानों की तरह एक विद्वान थे।”

विज्ञापन

“अरब में उस समय समस्या यह थी कि इब्न अब्दुल वहाब के छात्र ही ऐसे लोग थे जो पढ़ना और लिखना जानते थे और इतिहास उनके नज़रिये से लिखा गया था। इब्न अब्दुल वहाब के लेखन का उपयोग कई चरमपंथियों ने अपने खुद के एजेंडे के लिए किया है। लेकिन मुझे यकीन है कि अगर इब्न अब्दुल वहाब, इब्न बाज और अन्य आज ज़िंदा होते, तो वे इन चरमपंथी विचारों और इन आतंक’वादी समूहों से ल’ड़ने वाले पहले लोगों में से होते।

आगे उन्होंने कहा की बात यह है कि आईएसआईएस एक जीवित सऊदी धार्मिक शख्सियतों को उदाहरण के रूप में यूज़ नहीं करता है । जब वे मर जाते हैं, तो वे उनके शब्दों और उनकी सोचो को ट्विस्ट करके उसका इस्तेमाल अपने फायदे के लिए करते है।”

उन्होंने कहा कि सऊदी अरब में सुन्नी और शिया हैं, और सुन्नी के चार स्कूल हैं, और शियाओं के अलग-अलग स्कूल हैं, और उन सभी को कई धार्मिक बोर्डों में रिप्रेजेंट किया जाता है।

“लेकिन आज, कोई भी स्कूलों के विचारों को सऊदी अरब में धर्म को एकमात्र तरीके से देखने के लिए प्रेरित नहीं करता है। हो सकता है कि ये हमारे इतिहास में हुआ हो, जिनके बारे में मैंने आपको बताया था, खासकर 80 और 90 के दशक और 2000 के दशक की शुरुआत में। लेकिन आज, हम सही रास्ते पर वापस आ गए हैं, जैसा कि मैंने कहा था।”

आगे उन्होंने कहा की “हम अपने रूट्स की तरफ वापस चले गए है, जहा शुद्ध इस्लाम है, यह सुनिश्चित करने के लिए कि सऊदी अरब की रूह, इस्लाम पर आधारित है, हमारा कल्चर, चाहे आदिवासी हो या शहरी, किंगडम की सेवा कर रही है, लोगों की सेवा कर रही है, क्षेत्र की सेवा कर रही है, पूरी दुनिया की सेवा कर रहा है, और हमें इकनोमिक मज़बूती की ओर ले जा रहा है। और पिछले पांच वर्षों में यही हुआ है।

इसके आगे वो कहते है की इसलिए आज, मैं यह नहीं कह रहा हूं कि हम ऐसा कर सकते हैं। हो सकता है कि अगर हम 2016 में एक इंटरव्यू कर रहे होते, तो आप कहेंगे कि मैं अनुमान लगा रहा हूं, और यह सिर्फ सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस का एनालिसिस है। लेकिन हमने किया। अब आप इसे खुद देख सकते है आगे उन्होंने कहा की हमने 6,7 सालो में काफी कुछ हासिल किया है अभी कुछ चीज़े बाकी है जो हम आगे करेंगे

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here