लुलु ग्रुप के चेयरमेन युसुफ अली रमजान में बाटेंगे ’10 मिलियन भोजन पैकेट’

लुलु ग्रुप के चेयरमेन युसुफ अली ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक कदम और आगे बढ़ाते हुए यूएई का सबसे बड़ा यूएई का सबसे बड़ा शुरू किया है। जिसमे वह ’10 मिलियन भोजन पैकेट’ बाटेंगे।

शुक्रवार को, रमजान का पहले दिन, लुलु इंटरनेशनल ग्रुप, यूनियन कॉप, और हुसैन सजवानी-डैमैक फाउंडेशन ने कोविड-19 कोरोनावायरस से प्रभावित लोगों को 125,000 भोजन के पैकेट प्रदान करें। भारतीय व्यापारी, लुलु इंटरनेशनल ग्रुप के चेयरमैन, यूसुफ अली एमए, ने संयुक्त अरब अमीरात में फैलने से प्रभावित समुदायों को 125,000 भोजन के पैकेट प्रदान करने के लिए Dh1 मिलियन का दान किया।

यूसुफ अली ने कहा कि छोटे उपाय सबसे सरल इशारा है जो हम ऐसे समय में जरूरतमंदों का समर्थन करने के लिए कर सकते हैं। उन्होंने कहा, “यूएई और यूएई के लोगों में बुद्धिमान नेतृत्व द्वारा शुरू की गई ये सम्मानजनक पहल इस तथ्य पर उल्लेखनीय योगदान दे रही है कि हम दुनिया में मानवता और धर्मार्थ कार्यों की राजधानी में रहते हैं।”

अभियान महामहिम शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम, यूएई के उपराष्ट्रपति और प्रधान मंत्री और दुबई के प्रधान मंत्री के नेतृत्व में शुरू किया गया था। यूनियन कॉप ने जरूरतमंद लोगों को 125,000 भोजन उपलब्ध कराने के लिए Dh1 मिलियन के दान की भी घोषणा की। यूनियन कोऑपरेटिव के कार्यकारी अध्यक्ष खालिद हमैद बिन थेबान ने कहा कि ’10 मिलियन भोजन ‘अभियान के समान सामाजिक कार्यक्रमों और पहल का समर्थन करता है, जो हाइपरमार्केट श्रृंखला पूरे साल चलती है।

इससे पहले युसुफ अली ने भारत में प्रधानमंत्री राहत कोष में 25 करोड़ रुपये दान दिया है। इस बात की जानकारी उन्होने खुद दी है।  उन्होने अपने ट्वीट में कहा, “मैंने #COVID V 19 के खिलाफ भारत की लड़ाई में सभी राहत कार्यों का समर्थन करने के लिए #PMCaresFund में विनम्रता से INR 25 करोड़ का योगदान दिया है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE