चीन ने कोरोना वायरस से निपटने में तुर्की के प्रयासों को सराहा

दुनिया भर में जानलेवा कोरोना वायरस से हाहाकार मचा हुआ है। वहीं तुर्की में अब तक सिर्फ दो मामले सामने आए है। ऐसे में चीन ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए तुर्की के प्रयासों को सराहना की।

अंकारा में पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के दूतावास के अंडरक्रेचर हेंग वीहुआ ने कहा: “हमने तुर्की से महत्वपूर्ण समर्थन देखा है क्योंकि नए कोरोनोवायरस के मामले सामने आने लगे हैं, और हमें बहुत सहयोग मिला है।” अंडरस्क्रिटरी ने यह भी याद किया कि चीन ने राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोआन से शोक संदेश प्राप्त किया था और नई बीमारी के प्रसार से निपटने में दी गई सहायता के लिए एक बार फिर तुर्की के लोगों को धन्यवाद दिया।

वेहुआ ने कहा, “तुर्की का स्वास्थ्य मंत्रालय वायरस की लड़ाई में तीव्रता से काम कर रहा है। हम अधिकारियों से लगातार संपर्क में हैं और जानते हैं कि वे दिन-रात काम कर रहे हैं। वर्तमान में, तुर्की वह देश है जो पड़ोसी देशों की तुलना में सबसे हल्के तरीके से महामारी से गुजर रहा है, जो दर्शाता है कि उसकी नीतियां कितनी प्रभावी और सफल रही हैं।

उन्होने आगे कहा, जैसा कि तुर्की ने पास के देशों की तुलना में कोरोनोवायरस को रोकने में कामयाबी हासिल की है, दो दर्जन से अधिक देशों ने घातक वायरस के प्रभावों को कम करने के लिए जानकारी साझा करने और लड़ाई में परामर्श देने के लिए अंकारा से संपर्क किया है। ये संयोग का विषय नहीं है कि तुर्की अब तक वायरस को अपनी सीमाओं को पार करने से रोकने में कामयाब रहा है।

बता दें कि तुर्की के स्वास्थ्य मंत्रालय ने जनवरी में, इस्तांबुल हवाई अड्डे पर जो दुनिया के लिए प्रवेश द्वार है। ने पहलेही  तीन थर्मल कैमरे स्थापित किए, जहां लाखों यात्रियों की जांच हुई। वेहुआ ने माना कि प्रकोप शुरू होने के बाद से तुर्की ने तीन मौकों पर चीन को सहायता भेजी है। “पहली बार था जब तुर्की ने वुहान से तुर्की नागरिकों को निकालने के लिए भेजे गए विमान पर चिकित्सा उपकरण लाया था।

इसके बाद, स्वास्थ्य मंत्रालय और तुर्की के आपदा और आपातकालीन प्रबंधन प्राधिकरण (एएफएडी) ने सहायता भेजी। अंत में, हमें लगभग 100,000 मेडिकल मास्क और कुछ हजार एन -95 विशेष मास्क और सुरक्षात्मक मेडिकल सूट भी मिले। İGA, जो कंपनी इस्तांबुल हवाई अड्डे का संचालन करती है, ने भी 120 टन मूल्य की 3 टन की सहायता चीनी हवाई अड्डों पर भेजी।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE