No menu items!
23.1 C
New Delhi
Sunday, December 5, 2021

बेरूत में प्रद’र्श’न कर रहे शियाओं पर छत से चली गो’लि’यां, प्रधान मंत्री ने बताया – देश के लिए बड़ा झटका

लेबनान की राजधानी बेरूत में गुरुवार को शिया मुस्लिम समुदाय पिछले साल शहर के बंदरगाह पर हुए ब्ला*स्ट की जांच कर रहे जज के खिलाफ प्रद’र्शन करने के लिए जुटा था। इस दौरान उन पर  इमारतों की छतों से गो*लीबारी हुई। हिज़बुल्ला ने इस घटना के लिए स्थानीय ईसाई समुदाय को जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि ईसाई समुदाय ने इन आरोपों से इनकार किया।

वहींलेबनान के प्रधान मंत्री नजीब मिकाती ने कहा कि गुरुवार की हिं*सा देश के लिए एक झटका थी, लेकिन इसे दूर किया जाएगा, यह कहते हुए कि उनका मंत्रिमंडल देश को आर्थिक मंदी से बाहर निकालने के लिए आवश्यक वित्तीय आंकड़े के साथ अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) प्रदान करने के लिए काम कर रहा।

मिकाती ने रायटर से बात की, जिसमे उन्होने कहा, “लेबनान आसान नहीं मुश्किल दौर से गुजर रहा है। हम आपातकालीन कक्ष के सामने एक मरीज की तरह हैं।”  उन्होंने कहा, “इसके बाद हमारे पास रिकवरी को पूरा करने के लिए कई चरण हैं,” उन्होंने कहा कि देश के केंद्रीय बैंक के पास विदेशी मुद्रा की कोई तरलता नहीं थी जिसका वह उपयोग कर सके।

यह पूछे जाने पर कि क्या मंत्रियों ने मांग पर इस्तीफा देने की धमकी दी थी, मिकाती ने कहा, “हर कोई जो इस्तीफा देना चाहता है, उसे अपने फैसले की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।” उन्होंने कहा कि न्यायपालिका में दखल देना राजनेताओं का काम नहीं है, बल्कि यह कि संस्था को अपनी गलतियों को सुधारना चाहिए।

उन्होंने कहा, “एक न्यायाधीश को सबसे पहले कानून और संविधान की रक्षा करनी चाहिए।” उन्होने आगे कहा, “मेरे सहित कई लोग कहते हैं कि संवैधानिक त्रुटि हो सकती है लेकिन यह न्यायपालिका को तय करना है और वह निकाय खुद को सुधार सकता है राजनेता नहीं।”

आर्थिक सुधार पर कैबिनेट के ध्यान से ध्यान हटाने के बावजूद, मिकाती ने कहा कि आईएमएफ को “आने वाले दिनों में” आवश्यक वित्तीय डेटा प्रदान किया जाएगा। बता दें कि इस घटना में 6 लोगों की मौ’त हो गई।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get in Touch

0FansLike
3,041FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Posts

error: Content is protected !!