करबाख पर हा’र के बाद अप्रैल के शुरू में इस्तीफा देंगे अर्मेनियाई पीएम पशिनयान

अर्मेनियाई प्रधानमंत्री निकोलस पशिनियन ने घोषणा की है कि वह अगले महीने 20 जून को होने वाले संसदीय चुनावों के लिए इस्तीफा देंगे। उनका फैसला देश को राजनीतिक संकट से बचाने के प्रयास के तहत लिया हुआ माना जा रहा है।

पाश्चिनन ने अपने फेसबुक पेज पर शेयर किये गए एक वीडियो में उत्तरपश्चिम आर्मेनिया की यात्रा के दौरान रविवार को कहा, “मैं अप्रैल में इस्तीफा दे दूंगा। देश में जल्द चुनाव कराने के लिए इस्तीफा दूंगा।”

उन्होंने कहा, “मैं अंतरिम प्रधानमंत्री के रूप में काम करता रहूंगा।”

इस महीने की शुरुआत में प्रधान मंत्री ने स्नैप संसदीय चुनावों की घोषणा की। उन्होंने कहा कि “वर्तमान आंतरिक राजनीतिक स्थिति से सबसे अच्छा तरीका है”।

नागोर्नो-करबाख क्षेत्र में अजरबेजान से मिली करारी हार के बाद प्रधानमंत्री निकोलस पशिनियन को अर्मेनिया में भारी विरोध का सामना करना पड़ा है। अजरबैजान के साथ युद्ध विराम पर सहमत होने के बाद पशिनियन को पद छोड़ने का दबाव था। जिसे आर्मेनिया में कई लोगों ने राष्ट्रीय अपमान के रूप में देखा।

इस समझौते के तहत, येरेवन ने अजरबैजान को क्षेत्र को खाली कर दिया और रूसी शांति सैनिकों को उन क्षेत्रों में तैनात करने की अनुमति दी, जिन्होंने इसे तीन दशकों तक नियंत्रित किया था।

पशिनयान ने कहा कि यदि मतदाता उनका और उनकी टीम का समर्थन करते हैं, तो वे “आपको पहले से बेहतर सेवा देते रहेंगे”।

उन्होंने कहा, “यदि नहीं, तो हम आपके द्वारा चयनित किसी को भी सत्ता हस्तांतरित करेंगे।”