हौथी ने यमन में तरावीह की नमाज से रोका, अल-अजहर ने लगाई फटकार

मिस्र स्थित सुन्नी मुस्लिमों की सबसे बड़ी संस्था अल अजहर ने यमन में रमजान के मुस्लिम पवित्र महीने के दौरान रात की विशेष नमाज तरावीह पर हौथीयों द्वारा लगाई पाबंदी की आलोचना की।

एक बयान में, अल-अजहर ने कहा कि हौथी का प्रति’बंध “धर्मों और अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों के सिद्धांतों के विपरीत है जो धर्म की स्वतंत्रता और इबादत स्थलों के सम्मान के लिए कहता हैं।”

शनिवार को, अवाफ के यमनी मंत्रालय (धार्मिक बंदोबस्त) ने हौथी विद्रोहियों द्वारा ग्रामीण इलाकों में तरावीह की नमाज पर प्रति’बंध लगाने का आरोप लगाया।

हौथी के विद्रोही नेता मोहम्मद अली अल-हौथी ने अल-अजहर के बयान की आलोचना की, जिसमें तरावीह की नमाज़ को एक “विधर्मी” बताया।

2014 के बाद से ईरान समर्थित हौथी विद्रो’हियों ने राजधानी सना समेत देश के अधिकांश हिस्सों पर कब्जा कर लिया। यमनी सरकार को बहाल करने के उद्देश्य से एक सऊदी नेतृत्व वाले गठबंधन ने स्थिति को और खराब कर दिया है।