अमेरिकी राष्ट्रपति बिडेन से मिलने वाशिंगटन पहुंचे अफगान राष्ट्रपति अशरफ गनी

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन आज अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी और उनके पूर्व राजनीतिक विरोधी  अब्दुल्ला अब्दुल्ला से मुलाकात करेंगे। इस मुलाक़ात में अफगानिस्तान के लिए वाशिंगटन के समर्थन पर चर्चा की जाएगी। बता दें कि अमेरिकी सैनिक 20 साल बाद अफगानिस्तान से वापसी कर रहे है।

ओवल ऑफिस की बैठक गनी के लिए बेहद ही मूल्यवान है। काबुल में अमेरिका के पूर्व राजदूत रोनाल्ड न्यूमैन ने कहा, “ऐसे समय में जब मनोबल अविश्वसनीय रूप से अस्थिर है और चीजें नीचे जा रही हैं, मनोबल बढ़ाने और सरकार को किनारे करने में मदद करने के लिए कोई भी कुछ भी कर सकता है।” उन्होने कहा, “गनी को यहां आमंत्रित करना एक बहुत मजबूत संकेत है कि हम उनका समर्थन कर रहे हैं।”

व्हाइट हाउस के उप प्रेस सचिव कारीन जीन-पियरे ने कहा कि बिडेन की राष्ट्रपति के रूप में गनी और अब्दुल्ला के साथ पहली बैठक “अफगान लोगों के लिए हमारी निरंतर प्रतिबद्धता” और सुरक्षा ब’लों पर केंद्रित होगी। साथ ही बिडेन ने कांग्रेस से अगले साल अफगानिस्तान के लिए 3.3 बिलियन डॉलर की सुरक्षा सहायता को मंजूरी देने के लिए कहा है।

जीन-पियरे ने कहा कि बिडेन अफगानिस्तान के दो पिछले राष्ट्रपति चुनावों में गनी और अब्दुल्ला से “संयुक्त मोर्चा बनने” का आग्रह करेंगे और वह बातचीत के लिए शांति समझौते के लिए अमेरिकी समर्थन की पुष्टि करेंगे।

हालांकि, अमेरिकी अधिकारी, स्पष्ट कर चुके हैं कि बिडेन अमेरिका की वापसी को नहीं रोकेंगे – जुलाई के अंत या अगस्त की शुरुआत में पूरा होने की संभावना है।