कोरोनावायरस को लेकर बोले शोएब अख्तर – ये वक्त ‘हिंदू-मुसलमान’ का नहीं बल्कि इंसान बनने का

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते एक तरह से पूरी दुनिया लॉकडाउन हो चुकी है।इसी बीच पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अपने फैन्स से कहा है कि यह ऐसा समय है, जिसमें कोई भी हिंदू या मुस्लिम, अमीर या गरीब होकर नहीं बल्कि इंसान की तरह सोचे।

रावलपिंडी एक्सप्रेस नाम से मशहूर शोएब अख्तर ने अपने यूटयूब चैनल पर कहा है कि प्लीज दिहाड़ी मजदूरों के बारे में सोचिए, स्टोर खाली हो चुके हैं। दिहाड़ी मजदूर कैसे अपना गुजारा करेंगे। ऐसे लोगों के बारे में सोचिए। ये वक्त हिंदू-मुसलमान बनने का नहीं है, बल्कि इंसान बनने का है. लोगों को एक-दूसरे की मदद करनी चाहिए।

शोएब अख्तर ने कहा, अमीर लोग फिर भी जीने का तरीका निकाल लेंगे, लेकिन गरीबों का क्या होगा। हम जानवरों की तरह जी रहे हैं। इंसानों की तरह जीना होगा। हमें मददगार बनना होगा। सामान ए​कत्रित मत कीजिए। इससे गरीबों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।

गौरतलब है कि पाकिस्तान में अब तक कोरोना वायरस के लगभग 800 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। यह संख्या हर दिन तेजी से बढ़ती जा रही है। भारत में भी आंकड़ा चार सौ पार कर गया है और हर दिन मरीज बढ़ते जा रहे हैं।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE

[vivafbcomment]