जूही चावला ने भारत में 5जी टेक्नोलॉजी के खिलाफ दायर की याचिका, कर दी ये बड़ी मांग

0
327

भारत में जल्द ही 5जी तकनीक लागू करने को लेकर टेलिकॉम कंपनियां तेजी के साथ अपने कामों में जुटी है। देश भर में 5जी नेटवर्क लगाए जा रहे है और उनकी टेस्टिंग का काम भी शुरू हो चुका है। इसी बीच 90 दशक की क्यूट बॉलीवुड  एक्ट्रेस जूही चावला ने 5जी टेक्नोलॉजी के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की है।

अपनी याचिका में उन्होने कहा कि 5 जी वायरलेस नेटवर्क से मानव के अलावा पशुओं, वनस्पतियों और जीवों पर भी रेडिएशन का कुप्रभाव पड़ रहा है। उन्होने कहा, इसे लागू किये जाने से पहले इससे जुड़े तमाम तरह के अध्ययनों पर बारीकी से गौर किया जाए और फिर उसके बाद ही इस टेक्नोलॉजी को भारत में लागू करने के बारे में विचार किया जाए।

विज्ञापन

उन्होने सवाल उठाया कि  इस नई तकनीक पर क्या पर्याप्त शोध किया गया है? उन्होने ये भी कहा कि यदि 5जी के लिए दूरसंचार उद्योग की योजना सफल होती है तो ऐसा कोई व्यक्ति, पशु-पक्षी, कीट, पेड़ पौधा नहीं होगा जो दिन के 24 घंटे और साल के 365 दिन आरएफ विकिरण के स्तर से बचने में सक्षम होगा जो कि मौजूदा विकिरण से 10 से 100 गुना तक अधिक है।

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, यह मामला सुनवाई के लिए न्यायमूर्ति सी हरिशंकर के पास आया था लेकिन उन्होने इस याचिका पर सुनवाई से खुद को अलग करते हुए मामले को दूसरी बेंच के समक्ष स्थानांतरित कर दिया। इस मामले पर 2 जून को सुनवाई होगी।

जुही चावला मोबाइल टावरों से निकलने वाले हानिकारक रेडिएशन को लेकर लोगों को जागरूक करने का काम करती है। साल 2008 में उन्होंने महाराष्ट्र के तत्कालीन सीएम देवेंद्र फडणवीस को इस सबंध में पत्र भी लिखा था। जिसमे उन्होने फडणवीस को मोबाइल टावर तथा वाई-फाई हॉटस्पॉट से निकलने वाले रेडिएशन से मानव जाति, पशु-पक्षियों व पेड़-पौधों को होने वाली नुकसान के प्रति चेताया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here