कोरोना संकट के बीच प्रवासी मजदूरों की कर रहे मदद, बीसीसीआई ने की शमी की तारीफ

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी कोरोनावायरस महामारी के बीच प्रवासी मजदूरों सहित जरूरतमंदो तक भोजन, मास्क पहुंचाने का काम कर रहे है। यूपी के बिजनौर शहर के सहसपुर में अपने घर के पास उन्होने भोजन वितरण केंद्र भी बनाया है। वहां से वह जरूरतमंदों को मास्क और खाना मुहैया करा रहे हैं।

ऐसे में अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने क्रिकेटर मोहम्मद शमी की तारीफ की है। बोर्ड ने मंगलवार को एक वीडियो ट्वीट किया जिसमें शमी अपने घर के पास लोगों को जरूरत का सामान मुहैया करवा रहे हैं। शमी ने टैंट लगा रखा है जहां वह लोगों को भोजन और मास्क दे रहे हैं। वह बसों के यात्रियों को भी ये सामान दे रहे हैं।

बोर्ड ने इसके साथ कैप्शन लिखा, ‘जब भारत कोरोना से लड़ रहा है मोहम्मद शमी आगे आकर लोगों की मदद कर रहे हैं। वह उत्तर प्रदेश में अपने घर सहसपुर के पास नैशनल हाईवे 24 पर लोगों को खाने के पैकेट और मास्क बांट रहे हैं। इस जंग में हम सब साथ हैं।’

बीसीसीआई के ट्वीट पर शमी ने शुक्रिया अदा किया। इस स्टार पेसर ने रिप्लाई किया- शुक्रिया बीसीसीआई, यह तो मेरा फर्ज था। गौरतलब है कि रणजी ट्रॉफी में बंगाल के लिए खेलने वाले शमी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के अमरोहा के रहने वाले हैं। शमी लॉकडाउन के दौरान अपने घर पर हैं।

हाल ही में एक वीडियो चैट के दौरान उन्होंने बताया कि वह अपने गांव आए हैं। कुछ दिन पहले युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) के साथ लाइव चैट में शमी ने कहा था कि जब मजदूर लोग पैदल ही अपने घर जाने लगे थे तो एक शख्स उनके फॉर्महाउस के दरवाजे पर आकर बेहोश हो गया था। शमी ने कहा कि फिर हमने उस शख्स को खाना खिलाया और और उसकी मदद की।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE