Home खेलकूद चैंपियंस ट्राफी के फाइनल में पाकिस्तान ने दी भारत को करारी शिकस्त,...

चैंपियंस ट्राफी के फाइनल में पाकिस्तान ने दी भारत को करारी शिकस्त, ये रहे हार के 5 बड़े कारण..

83
SHARE

नई दिल्ली | इंग्लैंड में चल रही आईसीसी चैंपियंस ट्राफी के फाइनल में भारत को करारी हार झेलनी पड़ी है. पाकिस्तान ने भारत को सभी विभागों में पछाड़ते हुए 180 रनों के भारी अंतर से हरा दिया. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करनी उतरी पाकिस्तान की टीम ने निर्धारित 50 ओवर में 338 रनो का विशाल स्कोर खड़ा किया. लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम पाकिस्तान के बेहतरीन तेज गेंदबाजी आक्रमण के आगे केवल 158 रनों पर ढेर हो गयी.

भारत की और से सर्वाधिक स्कोर हार्दिक पंड्या का रहा जिन्होंने तेज तर्रार 76 रनों की पारी खेली. उनको रविन्द्र जड़ेजा की गलती की वजह से रन आउट होना पड़ा. पाकिस्तान की और से उनके तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर और हसन अली ने 3-3 जबकि शादाब खान ने 2 विकेट लिए. एक बल्लेबाज को जुनैद ने आउट किया तो एक बल्लेबाज रन आउट हुआ. पाकिस्तान की बैटिंग की बात करे तो उनके ओपनर फखर जमान ने बेहतरीन शतक जमाते हुए शानदार 114 रन बनाए.

अगर भारत के हार के कारणों की समीक्षा की जाए तो ऐसे पांच कारण है जिनकी वजह से भारतीय टीम मिनी वर्ल्ड कैप का फाइनल हार गयी. वो कारण है-:

  1. भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली का ओवर कॉन्फिडेंस भारत की हार का सबसे बड़ा कारण रहा. उन्होंने पाकिस्तान की टीम को कमजोर आंकते हुए पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया जो भारत के लिए घातक साबित हुआ. इसके अलावा विराट को यह भी ओवर कॉन्फिडेंस था की उनको चेज करने में महारत हासिल है इसलिए वो पाकिस्तान को आसानी से हरा देंगे.
  2. भारतीय टीम में शामिल किये गए दो स्पिनर भी इस हार का कारण रहे. पहले गेंदबाजी करते हुए रविन्द्र जडेजा ने अपने 8 ओवर में 70 रनों के करीब लुटा दिए. इसके बाद बल्लेबाजी के दौरान अच्छे हिट लगा रहे हार्दिक पंड्या को आउट कराकर उनको रही सही कसर पूरी कर दी. उमेश यादव की जगह टीम में शामिल किये गए अश्विन भी खासे महंगे साबित हुए और उन्होंने अपने 10 ओवर के कोटे में 70 रन दे दिए.
  3. कोहली ने कप्तानी के दौरान अश्विन से लगातार गेंदबाजी कराना जारी रखा जबकि उनके पास केदार जाधव के रूप में एक विकल्प बाकी था. केदार ने बांग्लादेश के खिलाफ अच्छी गेंदबाजी की थी लेकिन उनको फाइनल में बड़ी देर से लाया गया.
  4. बल्लेबाजी के दौरान भी कोहली का ओवर कॉन्फिडेंस भारत पर काफी भारी पड़ा. आमिर के पहले ही ओवर में रोहित शर्मा का विकेट खोने के बावजूद कोहली ने आमिर के ओवर में शॉट लगाने की कोशिश की जिसकी वजह से वो स्लिप में कैच आउट होते होते बचे. कोहली यहाँ भी नही चेते और आमिर की अगली ही गेंद पर उन्होंने फिर शॉट लगाने की कोशिश की. लेकिन इस बार पॉइंट में खड़े फील्डर ने कोई गलती नही की.
  5. भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने का कई नो बाल करना भी भारत को काफी महंगा पड़ा. उनके नो बाल करने की वजह से पाकिस्तान के ओपनर फखर जमान को एक जीवनदान मिला. फखर 9 रन के निजी स्कोर पर विकेट के पीछे आउट हो गए लेकिन अंपायर ने इसे नो बाल करार दिया. इसके बाद फखर ने 114 रनों की बेहतरीन पारी खेली.

इस हार के पीछे भारतीय मीडिया का भी अहम् योगदान रहा है. उन्होंने पिछले तीन दिनों से इस मैच को एक युद्ध के तौर पर भारतीय दर्शको के सामने रखा है. इस दौरान उन्होंने भारतीय टीम को कही बाहुबली तो कही बॉर्डर फिल्म के हीरो के तौर पर दिखाया है. बेहतर होता अगर इसे एक खेल के तौर पर रखते तो शायद भारतीय टीम पर इतना दबाव न पड़ता और वो अपना स्वाभाविक खेल खेल पाते. बरहाल हकीकत यही है की पाकिस्तान टीम ने चैंपियंस ट्राफी 2017 जीत ली है.