खेलकूद

कप्तानी छोड़ने पर बोले धोनी, बिना सोचे समझे कुछ नही करता

dhonitest_070716020425

रांची | भारत के सबसे सफलतम कप्तानो में से एक, महिंद्र सिंह धोनी ने टी20 और वन डे की कप्तानी छोड़ दी है. उन्होंने अचनाक से इस बात की घोषणा करके सबको चौंका दिया. सबके जेहन में अब एक ही बात उठ रही है की आखिर किन वजहों से धोनी ने कप्तानी छोड़ने का फैसला किया. क्या विराट कोहली का टेस्ट कप्तान के तौर पर शानदार प्रदर्शन इसकी वजह बना?

इस मामले में अपनी चुप्पी तोड़ते हुए महिंद्रा सिंह धोनी ने कहा है की वो चाहते थे की तीनो फॉर्मेट का एक ही कप्तान हो. इसके अलावा वर्ल्ड कप आने में अभी दो साल का समय बचा है. किसी भी नए कप्तान को तैयार होने के लिए इतना समय देना जरुरी है. धोनी ने आगे कहा की मन जो कुछ भी करता हूँ वो बिना सोचे समझे नही करता.

उधर खबर है की धोनी ने चयनकर्ताओ के साथ बात करने के बाद यह फैसला लिया. नागपुर में झारखण्ड और गुजरात के बीच चल रहे रणजी मैच में धोनी , झारखंड टीम के मेंटोर की भूमिका निभा रहे थे. यह मैच रविवार में शुरू हुआ और बुधवार को खत्म. बुधवार को ही स्टेडियम में मुख्य चयनकर्ता एसके प्रसाद दिखाई दिए. इस दौरान उन्होंने धोनी से भी बात की.

मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को धोनी ने एसके प्रसाद के साथ कई बार मुलाकात की. इसके बाद ही BCCI ने शाम को ट्वीट कर जानकारी दी की धोनी ने दोनों फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है. हालांकि धोनी एक खिलाडी के तौर पर खेलते रहेंगे. उधर धोनी के बाद विराट का दोनों फॉर्मेट का कप्तान बनना तय है. 15 जनवरी से इंग्लैंड के साथ होने वाली वनडे सीरीज में कोहली ही कप्तानी करते हुए दिखेंगे.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top
error: Content is protected !!