राजनीति

भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने के लिए मोहन भागवत को बनना चाहिए राष्ट्रपति- शिवसेना

मुंबई | इसी साल जुलाई में राष्ट्रपति प्रणव मुख़र्जी का कार्यकाल समाप्त हो जायेगा इसलिए नए राष्ट्रपति के लिए गहमागहमी भी शुरू हो गयी है. पांच राज्यों के विधानसभा चुनावो के नतीजो से यह तो तय माना जा रहा है की इस बार बीजेपी का उम्मीदवार ही राष्ट्रपति की दौड़ में सबसे आगे रहेगा. हालाँकि बीजेपी ने अभी राष्टपति पद के लिए उम्मीदवार की घोषणा नही की है लेकिन उनकी सहयोगी पार्टी शिवसेना ने एक नाम का सुझाव दिया है.

शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने राष्ट्रपति चुनावो पर बात करते हुए कहा की यह देश की सबसे ऊँची पोस्ट है. इसलिए इस पर कोई साफ़ छवि वाला शख्स ही चुना जाना चाहिए. हमने यह सुना है की राष्ट्रपति पद के लिए मोहन भागवत के नाम पर भी चर्चा हो रही है. यह सही है, अगर भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाना है तो भागवत राष्ट्रपति पद के लिए एक बेहतर विकल्प साबित होंगे.

हालाँकि संजय राउत ने स्पष्ट किया की अभी पार्टी ने यह तय नही किया है की वो चुनावो में किस पार्टी या उम्मीदवार का समर्थन करेगी. उन्होंने कहा की पिछले दो चुनावो में बाला साहेब ने रुझान के खिलाफ और देश हित में फैसला लिया था. इस बार भी इसके लिए मातोश्री में ही फैसला होगा. जिन लोगो को वोट चाहिए, वो मातोश्री आ सकते है. हम बातचीत के लिए तैयार है.

इस दौरान राउत ने मजाकिया लहजे में कहा की मातोश्री में खाना अच्छा बनता है. बताते चले की प्रधानमंत्री मोदी ने एनडीए के सभी घटक दलों के नेताओं को गुडी पडवा पर डिनर के लिए आमंत्रित किया है. उम्मीद है की डिनर पर मोदी , राष्ट्रपति चुनावो के बारे में चर्चा कर सकते है. मालूम हो की राष्ट्रपति चुनावो में लोकसभा, राज्यसभा के सांसद और विधानसभा सदस्य भाग लेते है. फिलहाल बीजेपी की तरफ से चार नामो पर चर्चा चल रही है. ये नाम है लाल कृष्ण अडवाणी, सुषमा स्वराज, सुमित्रा महाजन और द्रौपदी मुरमु.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top
error: Content is protected !!