राजनीति

नितीश की यूपी में दोबारा कराने की चुनौती का बीजेपी ने दिया जवाब, नितीश को बताया सत्ता का लालची

लखनऊ | अभी हाल ही में बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार और बीजेपी की बढती नजदीकियों की खबर पुरे जोर शोर से चल रही थी. मीडिया ने तो इस बात का अंदाजा भी लगाना शुरू कर दिया था की नितीश , बिहार में लालू प्रसाद यादव का साथ छोड़कर बीजेपी का दमन थाम सकते है. लेकिन इन सभी बातो पर खुद नितीश कुमार ने विराम लगा दिया. उन्होंने दो दिन पहले बीजेपी की उस चुनौती को स्वीकार कर लिया जो उनके नेता और यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने उन्हें दी थी.

केशव् ने बिहार दौरे के दौरान नितीश कुमार को चुनौती दी थी की अगर हिम्मत है तो बिहार में विधानसभा भंग कर दोबार चुनाव कराये. केशव की इस चुनौती का जवाब देते हुए नितीश कुमार ने कहा था की हम उनकी चुनौती स्वीकार करते है, हम बिहार विधानसभा भंग कर दोबारा चुनाव कराने के लिए तैयार है लेकिन अगर उनमे हिम्मत है तो बिहार के साथ साथ यूपी में भी दोबारा चुनाव कराये , इसके साथ साथ यूपी और बिहार में बीजेपी से जीतकर आये सभी सांसद इस्तीफा देकर दोबारा चुनाव का सामना करे.

नितीश की चुनौती पर केशव प्रसाद मौर्य ने प्रतिक्रिया देते हुए इसे निरर्थक बताया. उन्होंने कहा की अभी हाल ही के चुनावो में महागठबंधन ने बीजेपी का विजयी रथ रोकने के लिए पूरी ताकत झोंक दी थी लेकिन उनको कुछ हासिल नही हुआ. ऐसे में इस चुनौती का कोई मतलब नही है. मैं एक बार फिर कहता हूँ की अगर बिहार में अभी चुनाव हो जाये तो जदयू , राजद और कांग्रेस के इस बेमेल गठबंधन का सूपड़ा साफ़ हो जायेगा.

केशव ने आगे बोलते हुए नितीश पर भी हमला बोला . उन्होंने कहा की वो सत्ता के लालची इंसान है इसलिए वो ऐसी बाते कर रहे है. मैं मानता हूँ की वो अखिलेश से भी ज्यादा असफल मुख्यमंत्री है. इसलिए उनको पता है की अगर अभी चुनाव हुए तो उनका सूपड़ा साफ़ हो जायेगा. मैं वहां होकर आया है और जो मैंने महसूस किया है उसके हिसाब से बता सकता हूँ की आने वाले लोकसभा चुनाव में महागठबंधन का खाता भी नही खुलेगा.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top
error: Content is protected !!