राष्ट्रिय

बड़ी पहल : महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने आत्महत्या करने वाले 208 किसानो के परिवारो को लिया गोद

मुंबई | पिछले कई सालो से महाराष्ट्र के कई इलाको में जबरदस्त सुखा पड़ रहा है. जिसके सबसे बड़ी मार किसानो पर पड़ी है. यही वजह है की महाराष्ट्र के विदर्भ इलाके में  किसान लगातार आत्महत्या कर रहे है. हालाँकि देश के कई और राज्य है जहाँ कर्ज तले दबा किसान आत्महत्या कर रहा है. लेकिन विदर्भ में इसका औसत बाकि राज्यों से ज्यादा है. इसी कारण किसान आन्दोलन कर लगातार कर्ज माफ़ी की मांग कर रहा है.

ऐसे में महाराष्ट्र के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने बड़ी पहल करते हुए 208 किसान परिवारों को गोद लेने का एलान किया है. इन सभी परिवारों से किसानो ने आत्महत्या की है. इसके बाद से ये सभी परिवार जीवन यापन के लिए संघर्ष कर रहे है. उनकी इस पीड़ा को समझते हुए कांग्रेसी नेता की यह पहला काबिल ए तारीफ है.

महाराष्ट्र विपक्ष के नेता और वरिष्ठ कांग्रेसी राधाकृष्ण विखे पाटिल ने आत्महत्या करने वाले 208 परिवारों को गोद लेने का फैसला किया है. उन्होंने देश के पूर्व वित्त राज्यमंत्री बालासाहेब विखे पाटिल के नाम से बनी सामाजिक संस्था के तहत इन परिवारों को गोद लिया. गुरुवार को इसकी घोषणा करते हुए बालासाहेब के बेटे राधाकृष्ण ने कहा की हमने इन परिवारों के एक सदस्य को संस्था में नौकरी देने का भी फैसला किया है.

इन परिवारों को गोद लेने से पहले सबके बारे में सटीक जानकारी जुटाई गयी, इसके बाद इन लोगो की जरूरतों को समझते हुए इन्हें गोद लेने का फैसला किया गया. इस योजना के अनुसार संस्था इन परिवारों के बीमा, स्कूल फीस और शादी योग्य लडकियों के विवाह का पूरा खर्चा उठाएगी. इस मौके पर राधाकृष्ण ने कहा की हमें किसान आत्महत्याओ को राजनीती से ऊपर उठकर देखना चाहिए.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top
error: Content is protected !!