Home अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिबंध के बाद दूध की कमी से जूझ रहे क़तर को मिलेगी...

प्रतिबंध के बाद दूध की कमी से जूझ रहे क़तर को मिलेगी इन देशो की 4000 हजार गायो से राहत

68
SHARE

दोहा | चार देशो के प्रतिबंध से जरुरी चीजो की कमी झेल रहे क़तर के लिए एक राहत की खबर है. यहाँ के एक व्यापारी ने दूध की कमी से निपटने के लिए हाथ बढाया है. बताते चले की खाद्य पदार्थो के लिए खाड़ी देशो पर निर्भर रहने वाले क़तर के लिए प्रतिबंध के बाद दूध की कमी हो गयी है. हालाँकि जब तक कोई इंतजाम नही हो जाता तब तक तुर्की से डेयरी उत्पाद और इरान से फल एवं सब्जियों की आपूर्ति की जा रही है.

क़तर के बड़े व्यापारी  मोताज अल ख्यात ने दूध की कमी से निपटने के लिए दुसरे देशो से गाय लाने का फैसला किया है. इसके लिए करीब 4 हजार गायो को क़तर लाया जाएगा. इसके लिए क़तर एयरलाइन्स का उपयोग होगा. इस बारे में बताते हुए मोताज अल ख्यात ने बताया की दूध की कमी को दूर करने के लिए क़तर को खुद को आत्मनिर्भर बनाना होगा. यही वजह है की हमने गायो को लाने का फैसला किया है.

मोताज के अनुसार चार हजार गायो के लिए डेयरी फार्म को तैयार कर लिया गया है. इसके लिए दोहा से 50 किलोमीटर दूर एक डेयरी फार्म बनाया गया है. इन गायो को ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका से लाया जायेगा. उम्मीद है की इस कदम से सऊदी अरब से आने वाले दूध का संकट ख़त्म हो जायेगा. हम जून के अंत तक ताजे दूध का भरपूर उत्पादन करने में सफल होंगे और जुलाई के मध्य तक दूध की घरेलु मांग को पूरा कर लिया जायेगा.

मोताज पवार इंटरनेशनल होल्डिंग के अध्यक्ष है. उनके इस कदम से क़तर एयरवेज की भी नुक्सान की भरपाई हो सकेगी. गाय का वजन करीब 590 किलो होने के कारण क़तर एयरवेज को इसके लिए करीब 60 बार उड़ाने भरनी पड़ेगी . बताते चले की आतंकवाद का समर्थन करने के आरोप में चार देश सऊदी अरब, मिश्र, संयुक्त अरब अमीरात और बहरीन ने क़तर पर प्रतिबंध लगा दिया है. जिसके बाद से क़तर में जरुरी चीजो की कमी हो गयी है.